कैश मेमोरी क्या होता है (Cache memory in Hindi)

cache memory in Hindi

CPU के personal memory को ही Cache memory कहा जाता है  इस प्रकार के memory का प्रयोग CPU प्रोग्राम को execute करते समय करता है | Cache memory की साइज़ बहुत ही कम होती है लेकिन इसकी speed कंप्यूटर में उपस्थित अन्य सभी memory से अधिक होती है वर्तमान समय के Processor (CPU) बहुत ही तेज गति में कार्य करते है | लेकिन Processor के साथ कार्य करने वाले RAM की गति CPU की तुलना में बहुत ही कम होती है | इस कारण RAM और CPU की गति में असमानता होती है | इस गति के असमानता को दूर करने के लिए RAM और CPU के मध्य एक तेज गति के memory का प्रयोग किया जाता है | जिसे ही Cache memory कहा जाता है |

Cache memory कंप्यूटर की सबसे तेज memory है | जो CPU में उपस्थित होती है या CPU से डायरेक्टली जुडी होती है यह CPU और प्राइमरी मेमोरी RAM के मध्य में कार्य करता है |

Cache Memory की जरुरत क्यों पड़ती है?
RAM के डाटा एक्सेस करने की गति, CPU के Data Process करने के गति के Compare में बहुत ही कम होती है | जिसके कारण CPU को एक High Speed मेमोरी से जोड़ा जाता है | जो प्रोग्राम के Execution के समय CPU द्वारा बार बार उपयोग होने वाले डाटा को स्टोर करके रखता है | जिसे कैश memory कहते है | Computer में Cache Memory की जरुरत CPU के Execution पॉवर को Improve करने के लिए पड़ती है |

Cache Memory के कार्य

कैश मेमोरी CPU और RAM के बिच में Buffer की तरह कार्य करता है | कैश मेमोरी CPU में बार बार उपयोग में होने वाले Data या Instruction को स्टोर करके रखता है | जब CPU को डाटा की जरुरत पड़ती है| Cache Memory कंप्यूटर के कार्य करने के औसत गति को बढाती है |

 Cache Memory की Size
Cache memory की साइज़ बहुत ही कम होती है | लेकिन इसके Data ट्रांसमिशन की गति बहुत तेज होती है| किसी भी Computer में Cache memory की साइज़ 256 KB से 4 MB तक हो सकती है |
कैश मेमोरी क्या होता है (Cache memory in Hindi) कैश मेमोरी क्या होता है (Cache memory in Hindi) Reviewed by ADMIN on 23:06 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.