ई-बुक्स (इलेक्ट्रॉनिक पुस्तक) का क्या अर्थ है?

e book kya hai

ई-बुक्स (इलेक्ट्रॉनिक पुस्तक) का अर्थ है डिजिटल रुप में पुस्तक। ई-पुस्तकें और पत्रिकाएं कागज पर छपी होने के बजाय डिजिटल फाइल के रुप में होती हैं। इन्हें पढ़ने के लिए ई-बुक रीडर्स या ई-बुक डिवाइसेज़ भी उपलब्ध हैं। इन्हें कम्प्यूटर, मोबाइल एवं अन्य डिजिटल यंत्रों पर भी पढ़ा जा सकता है। इन्हें इन्टरनेट पर भी छापा, बांटा या पढ़ा जा सकता है।

इंटरनेट के मार्फत ई-बुक्स पढ़ने की सुविधा देने वाली व्यवस्थाओं में 1971 से चल रहा प्रोजेक्ट गुटेनबर्ग सबसे अग्रणी है। ये पुस्तकें कई फाइल फॉर्मेट में होती हैं जिनमें पीडीऍफ (पोर्टेबल डॉक्यूमेण्ट फॉर्मेट), ऍक्सपीऍस आदि शामिल हैं, इनमें पीडीऍफ सर्वाधिक प्रचलित फॉर्मेट है धीरे-धीरे पारंपरिक किताबों और पुस्तकालयों के स्थान पर पुस्तकों के नए रूप जैसे ऑडियो पुस्तकें, मोबाइल, टेलीफोन पुस्तकें, ई-पुस्तकें आदि उपलब्ध हों रही हैं।

ई-पुस्तकों को पढ़ने के लिए उपकरण अलग से भी उपलब्ध हैं इनमें अमेजन डॉट कॉम का किण्डल तथा ऐपल का आईपैड शामिल है पाइ एक अन्य उपकरण है नई-पुरानी किताबों सहित कई तरह की सामग्री इसमें ऑनलाइन स्टोर कर सकते हैं। मोबाइल के लिए एडोबी रीडर लाइट उपलब्ध है।
ई-बुक्स (इलेक्ट्रॉनिक पुस्तक) का क्या अर्थ है? ई-बुक्स (इलेक्ट्रॉनिक पुस्तक) का क्या अर्थ है? Reviewed by ADMIN on June 14, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.