सोरायसिस के घरेलू उपचार और नुस्खे (Home Remedies for Psoriasis in Hindi)


सोरायसिस एक त्वचा विकार है जिसके सही कारण अभी तक ज्ञात नहीं है। सोरायसिस के संभावित कारणों में आनुवंशिकता या पर्यावरणीय कारक शामिल हो सकते हैं। यद्यपि बीमारी से छुटकारा पाना संभव नहीं है लेकिन आप कुछ उपचारो का उपयोग कर सकते हैं जो सूजन, खुजली और लालिमा को कम कर देंगे। सोरायसिस उपचार के लिए कुछ उपयोगी उपचार यहां दिए गए हैं |

सोरायसिस के घरेलू उपचार - Home Remedies for Psoriasis in Hindi

सोरायसिस के घरेलू उपचार - Home Remedies for Psoriasis in Hindi

1. सोरायसिस का घरेलू उपाय है हल्दी - Turmeric Powder for Psoriasis in Hindi
हल्दी को एक 'पवित्र मसाले' के रूप में जाना जाता है। इसमें कई स्वास्थ्य गुण हैं जो कई विकारों के इलाज करने के लिए जाने जाते हैं। हल्दी पाउडर ज़रूरत के अनुसार गुलाब जल के साथ मिलाकर त्वचा पर लगाएँ और 15 मिनट के बाद धो लें। आप इस उपचार को सप्ताह में तीन बार करें। हल्दी को लालिमा और सूजन को कम करने के लिए जाना जाता है और यह दर्द से भी राहत प्रदान करती है।

2. सोरियासिस का इलाज करें एलोवेरा से - Aloe vera Treat Psoriasis in Hindi
एलोवेरा एक औषधीय पौधा है जिसका उपयोग त्वचा विकारों के उपचार के लिए होता है। यह त्वचा को पोषण देता है और काले धब्बे को हल्का करने में मदद करता है। यह आपकी त्वचा को भी शांति देता है और सोरायसिस में दर्द और सूजन से राहत प्रदान करता है। एलोवेरा पत्ते से ताजा एलोवेरा जैल को निकालकर उपयोग करें। एलोवेरा जैल को प्रभावित भागों पर लगाएँ और एक घंटे के बाद धो लें। यह उपचार आप दैनिक आधार पर कर सकते हैं।

3. अपरस की दवा है केले के छिलके - Banana Peel Cures Psoriasis in Hindi
केले स्वस्थ शरीर के लिए एक बहुत अच्छा फल हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि केले के छिलके भी आपके त्वचा के विकारों के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं? ताजे केले के छिलके को धीरे से त्वचा पर मलें जिससे आपको सूजन और लालिमा को कम करने में मदद मिलेगी। यह उपाय आप दिन में कई बार कर सकते हैं।

4. छाल रोग का उपचार करें टी ट्री आयल से - Tea Tree Oil Treats Psoriasis in Hindi
टी ट्री आयल टी ट्री के पौधे की पत्तियों से प्राप्त होता है। यह त्वचा में ड्राइनेस का इलाज करने के लिए जाना जाता है। आप हर रात सोने से पहले प्रभावित क्षेत्र पर जैतून के तेल के साथ टी ट्री आयल को मिलाकर लगा सकते हैं। इसे रात भर लगाकर रखें और सुबह गर्म पानी से धो लें।

5. सोरायसिस के उपचार में करेले का रस है लाभकारी - Bitter Gourd Juice for Psoriasis in Hindi
करेले का रस सोरायसिस के लक्षणों से राहत दिलाने में प्रभावी है। आप अपने दिन की शुरुआत एक गिलास करेले का रस पीने से कर सकते हैं। इसके कड़वे स्वाद को कम करने के लिए आप इसमें नींबू भी मिला सकते हैं।

6. सोरायसिस का सफल इलाज है मालिश - Oil Massage for Psoriasis in Hindi
आप एक चम्मच जैतून के तेल में 2-3 बूँद अजवायन तेल को मिलाकर प्रभावित क्षेत्र पर लगा सकते हैं। आप अनुपात को समान रखते हुए मात्रा बढ़ा सकते हैं। हर दिन प्रभावित क्षेत्रों में राहत के लिए इस तेल से 5-10 मिनट के लिए मालिश करें।

7. अपरस का इलाज करता है सेंधा नमक  - Epsom Salt for Psoriasis in Hindi
सेंधा नमक को बाथिंग रिजीम (bathing regime) में शामिल किया जा सकता है। सेंधा नमक त्वचा में दर्द और खुजली को कम करने में मदद करेगा। आप अपने गर्म पानी से भरे बाथ टब में सेँधा नमक मिला स्नान का आनंद उठा सकते हैं। आप यह उपाय हर रोज़ कर सकते हैं।

8. छाल रोग दवा है मोकोय - Black Nightshade for Psoriasis in Hindi
यह भारत में आम तौर पर मोकोय के रूप में जाना जाता है, इस पौधे को छाल रोग के लक्षणों के लिए उपयोगी माना जाता है। आप प्रभावित क्षेत्रों पर इस पौधे की पत्तियों को मसलकर उनके राद को लगाएँ। यह रस दर्द को कम करने में मदद करेगा। यह उपाय रोज किया जा सकता है। यह सूजन वाले क्षेत्रों को भी आराम देगा।

9. सोरायसिस का घरेलू उपचार करे लहसुन - Garlic Oil for Psoriasis in Hindi
सोरायसिस के लक्षणों से राहत पाने के लिए आप लहसुन का उपयोग कर सकते हैं। लहसुन में सूजन को कम करने वाले गुण पाए जाते हैं। सोरायसिस को रोकने के लिए लहसुन का नियमित सेवन एक कारगर तरीका हो सकता है। इस त्वचा विकार से निपटने के लिए हर दिन, दिन में 2-3 लहसुन की कलियाँ खाएं। बाहरी प्रयोग के लिए, आप लहसुन के तेल को लालिमा और दर्द को शांत करने के लिए नियमित रूप से लगा सकते हैं।

10 सोरायसिस का आयुर्वेदिक उपचार है गुदुची पाउडर - Guduchi for Psoriasis in Hindi
गुदुची या गिलोय एक जड़ी बूटी है, जिसमें सूजन को कम करने वाले गुण होते हैं। यह घावों की चिकित्सा में काफी उपयोगी है। यह सोरायसिस और एक्जिमा जैसी स्थितियों में बहुत उपयोगी है। आप सोरायसिस के लिए गुदुची पाउडर का उपयोग कर सकते हैं। गुदुची पाउडर में कुछ पानी को मिक्स करके एक पेस्ट तैयार करें और इसे प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएँ और 10-15 मिनट के बाद धो लें और यह उपचार दैनिक रूप से करें।

11. सोरायसिस की दवा बनाएँ नीम से - Neem Oil for Psoriasis in Hindi
नीम में जीवाणुरोधी और एंटिफंगल गुण होते हैं जो त्वचा संक्रमण के इलाज में प्रभावी साबित होते हैं। यह खुजली और सूजन को भी कम करता है। इसके अलावा नीम हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने के लिए भी जाना जाता है। आप नीम के तेल के माध्यम से इस जड़ी बूटी के लाभकारी गुणों का उपयोग कर सकते हैं। प्रभावित क्षेत्रों पर हर रोज नीम के तेल का उपयोग करें।

12. सोरायसिस का आयुर्वेदिक इलाज है मंजिष्ठा - Manjistha for Treating Psoriasis in Hindi
मंजिष्ठा आयुर्वेद में एक उपयोगी जड़ी बूटी है जिसका उपयोग विभिन्न विकारों के उपचार में किया जाता है। सोरायसिस जैसे त्वचा विकारों के उपचार में यह फायदेमंद है। आप हर दिन मंजिष्ठा पाउडर के काढ़े का एक गिलास पी सकते हैं। इसके अलावा आप हल्दी पाउडर के बराबर मात्रा में मंजिष्ठा पाउडर को मिक्स करके लगाएँ और 10 मिनट के बाद धो लें। यह नियमित आधार पर करें।

सोरायसिस का निवारण - Prevention of Psoriasis in Hindi
सोरायसिस एक गैर संक्रामक त्वचा रोग है जिसके कारण का अभी तक ठीक से पता नहीं चला है। इस रोग से पीड़ित व्यक्ति की त्वचा पर लाल रंग की मोटी सतह उभरकर आती है। यह त्वचा पर लाल दाग-धब्बों के रूप में दिखने लगती है जिसमें काफी दर्द भी हो सकता है। सोरायसिस में हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली और ज्यादा कम करने लगती है, जिसके कारण पुरानी त्वचा हटे बिना अतिरिक्त नई त्वचा की कोशिकाएं उत्पन्न होती हैं। इससे मोटी लाल पैच की परतें बनने लगती हैं। आप कुछ कारगर उपायों से इस त्वचा विकार को कम कर सकते हैं।

सोरायसिस में क्या खाएं - Food to eat in psoriasis in hindi

इस समस्या में आपको हरी पत्तेदार सब्जियां, फलियां, दाल, फल, मछली आदि का उपभोग करना चाहिए। इन खाद्य पदार्थों में एंटी-इंफ्लेमेटरी (anti-inflammatory) गुण होते हैं और कुछ खाद्य पदार्थ फाइबर में समृद्ध होते हैं, जो शरीर की गंदगी बाहर निकालने में मदद करते हैं। आपको बहुत ज्यादा नमकीन भोजन के सेवन से बचना चाहिए। जंक फूड का सेवन बिलकुल नहीं करें और आसानी से पचने योग्य भोजन का सेवन करें। बहुत खट्टा खाना आपके लिए उचित नहीं है। अत्यधिक दही और उड़द की दाल के सेवन से बचें। शराब ना पिएं और धूम्रपान बिलकुल ना करें। स्वस्थ पोषण क्रिया का पालन करें।

सोरायसिस रोग में करें त्वचा की देखभाल - Skin care for psoriasis in hindi
अपनी त्वचा को विशेष रूप से सुरक्षित रखें। जब आपकी त्वचा के खुले हिस्से में कहीं कट लग जाता है, तो बैक्टीरिया और वायरस के प्रवेश के लिए रास्ता बन जाता है। अपनी त्वचा को सूखने नहीं दें, इसे स्वस्थ रखने के लिए मॉइस्चराइज़र का इस्तेमाल करें ताकि पूरे समय त्वचा में नमी बानी रहे। सोरायसिस में एक सुरक्षित सीमा तक सूरज की रोशनी में रहना अच्छा हो सकता है।

सोरायसिस का सफल इलाज है तनाव से दूरी - Stress management for psoriasis in hindi
सोरायसिस में तनाव की एक प्रमुख भूमिका है। तनाव सोरायसिस त्वचा विकार के होने का कारण नहीं होता है पर सोरायसिस में तनाव हीने पर सोरायसिस रोग बढ़ने का खतरा रहता है। आप अपनी स्थिति के बारे में अपने चिकित्सक से बात कर सकते हैं। आप अपने आपको उन गतिविधियों में व्यस्त रखेँ जो आपको मूड को अच्छा करें। इसके लिए आप योग और व्यायाम भी कर सकते हैं जो आपके शरीर में रक्त परिसंचरण में सुधार करेंगे। इससे त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है।
सोरायसिस के घरेलू उपचार और नुस्खे (Home Remedies for Psoriasis in Hindi) सोरायसिस के घरेलू उपचार और नुस्खे (Home Remedies for Psoriasis in Hindi) Reviewed by ADMIN on 00:12 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.