ऑप्टिकल डिस्क क्या होता है - Optical Disk in Hindi

Optical Disk in Hindi

ऑप्टिकल डिस्क ड्राइव (ODD) एक ऐसा उपकरण है जिसे आप ऑप्टिकल डिस्क (CD / DVD) से डेटा को Read और Write करने के लिये इस्तेमाल किया जाता है | ऑप्टिकल डिस्क नाम इसलिए पड़ा है क्योंकि इसकी तकनीक प्रकाश पर आधारित है | चूंकि डिस्क स्पिन होती है, एक लेज़र बीम डिस्क की प्लास्टिक सामग्री में Pitsऔर Lands के एक बढ़ते निशान का अनुसरण करता है | Pits प्रकाश को Lands की तुलना में भिन्न रूप से Reflect करती हैं, यही ऑप्टिकल डिस्क पर डेटा को डिजिटल कोड 0 और 1 की एक श्रृंखला के रूप में संग्रहित करती है |

ऑप्टिकल डिस्क किसे कहते है (Optical Disc in Hindi)

ऑप्टिकल डिस्क एक इलेक्ट्रॉनिक डाटा स्टोरेज माध्यम है जिसमे लेज़र किरणों के द्वारा डाटा को लिखा और पढ़ा जा सकता है | मूल रूप से 1960 के दशक के अंत में, James T. Russell द्वारा बनाई गई पहली ऑप्टिकल डिस्क थी, जो प्रकाश और अंधेरे के Micron-Wide Dots के रूप में डाटा को संग्रहीत करती थी | इसके द्वारा डाटा को आसानी से एक स्थान से दूसरी स्थान तक ले जाया जाता था | इनका निर्माण Poly-carbonate के उपयोग से किया जाता है| उदाहरण: CD (Compact Disk) और DVD (Digital Versatile Disc).

ऑप्टिकल डिस्क के प्रकार - Types of Optical Disk drive

विभिन्न ऑप्टिकल डिस्क निम्नलिखित हैं :
CD Drive : कॉम्पैक्ट डिस्क (CD) एक ऑप्टिकल स्टोरेज डिवाइस होता है जिनका इस्तेमाल हम सॉफ्टवेयर, संगीत और फिल्म जैसे विभिन्न प्रकार के डेटा को स्टोर करने और वितरित करने के लिए उपयोग करते हैं | 3.5 इंच की फ्लॉपी डिस्क (Floppy Disc) 1.44 MB डेटा को स्टोर करता था | उपयोगकर्ता फ्लॉपी डिस्क पर केवल छोटे आकार की फ़ाइलों को ही स्टोर कर सकते थे | सीडी एक फ्लॉपी डिस्क से अधिक डेटा संग्रहीत करता है | सीडी 700 MB डेटा को स्टोर रखती है | सीडी पर संग्रहित डेटा फ्लॉपी डिस्क की तुलना में लंबी अवधि के लिए स्टोर किया जा सकता है | यह सस्ता और विश्वसनीय मीडिया है, सीडी एक गोल डिस्क होता है जिसके केंद्र में एक छेद रहता है जो डेटा को संग्रहीत करता है | सीडी से डाटा को Read और Write करने के लिए हमे सीडी ड्राइव की आवश्यक होती है |

DVD Drive : Digital Versatile Disk (DVD) भी डिजिटल स्टोरेज डिवाइस है, डीवीडी का इस्तेमाल संगीत, वीडियो, गेम्स और मल्टीमीडिया एप्लिकेशन को स्टोर करने के लिए किया जाता है | डीवीडी उपस्थिति और संरचना में सीडी के समान होता है | मगर  सीडी की तुलना में उच्च क्षमता और बेहतर गुणवत्ता का होता है, एक डीवीडी की भंडारण क्षमता एक सीडी की तुलना में सात गुना होती है | इसकी डाटा स्टोर करने की छमता 4.7 GB होती है | डीवीडी से डाटा को Read और Write करने के लिए हमे डीवीडी ड्राइव की आवश्यक होती है |

Blu-ray Drive: ब्लू-रे, जिसे ब्लू-रे डिस्क (BD) के रूप में भी जाना जाता है, एक अगली पीढ़ी के ऑप्टिकल डिस्क फॉर्मेट का नाम है | बीडी को संयुक्त रूप से BLU-ray Disc Association (BDA) द्वारा विकसित किया गया है, जो इलेक्ट्रॉनिक्स और मीडिया उत्पादक कंपनी है | ब्लू-रे डिस्क आपको 25 GB डेटा रिकॉर्ड करने या 2 घंटे तक High Definition वाले वीडियो को रिकॉर्ड करने में सक्षम बनाता है, जो लगभग 9 बार डीवीडी की क्षमता होती है |

ब्लू-रे डिस्क Single या Double layer फॉर्मेट में उपलब्ध रहती है एक तरफ 25 GB डाटा स्टोर करने की क्षमता होती है और दूसरी तरफ 25 GB की क्षमता होती है Double Layered BD 50 GB डेटा स्टोर कर सकता है और MPEG-2 फॉर्मेट का उपयोग करता है | एक Single Layered BD में 25 GB डाटा स्टोर करने की क्षमता होती है और Double Layered BD 50 GB डेटा स्टोर कर सकता है | रीलाइटेबल ब्लू-रे डिस्क में 36 Mbps (1x Speed) की डेटा ट्रांसफर स्पीड होती है | Blu-ray Player का इस्तेमाल कर हम blu-ray डिस्क को Play करते है |

CD – ROM ड्राइव: इनके द्वारा केवल CD – ROM ड्राइव को ही Read किया जा सकता है, इसीलिए इनकी कीमत बहुत कम होती है और आज मार्किट में ये विलुप्ती के कगार पर हैं |

CD-R ड्राइव: CD-R drive के द्वारा CD से डेटा केवल Read कर सकते हैं |

CD – RW ड्राइव: ये CD – ROM की ही तरह ही काम करते है, साथी ही इसके द्वारा डाटा की Read और Write दोनों कर सकते हैं | इनके द्वारा केवल CD डिस्क पर ही डाटा Read और Write कर सकता है नाकि DVD डिस्क पर |

DVD – ROM ड्राइव: इनके द्वारा CD – ROMऔर DVD – ROM डिस्क से डाटा को सिर्फ Read किया जा सकता है, इनकी कीमत CD – ROM ड्राइव से थोड़ी अधिक होती हैं |

DVD Writer: ये DVD –ROM और CD – RW दोनों के कार्य कुशलता से कर सकता है साथ ही ये लगभग हर तरह की डिस्क को Read और Write कर सकता है इन्ही खूबियों के कारण ये मार्किट में काफी लोकप्रिय है इसी सब वजहो से इनकी कीमत औरो के तुलना में अधिक होती है |

ऑप्टिकल डिस्क ड्राइव मीडिया फोर्मट्स (Optical Disc Drive Media Formats)
अधिकांश ऑप्टिकल ड्राइव बड़ी संख्या में विभिन्न डिस्क फोर्मट्स को चला और रिकॉर्ड कर सकते हैं | इनमे से लोकप्रिय ऑप्टिकल ड्राइव फोर्मट्स निम्नलिखित है CD-ROM, CD-R, CD-RW, DVD, DVD-RAM, DVD-R, DVD+R, DVD-RW, DVD+RW, DVD-R DL, DVD+R DL, BD-R, BD-R DL & TL, BD-RE, BD-RE DL & TL, and BDXL.

इन फोर्मट्स में “R” का अर्थ है रिकॉर्ड करने योग्य” (Recordable) और “RW” का अर्थ पुनः लिखना योग्य” (Rewritable) है |

डीवीडी रॉम ड्राइव की संरचना (Structure of the DVD ROM Drive)
डीवीडी रॉम ड्राइव के सामने एक ट्रे होता है जिसके द्वारा DVD को स्वीकार किया जाता है | इसमें ट्रे को खुलने वाला इजेक्ट बटन होता है इजेक्ट बटन का उपयोग डीवीडी ट्रे को बंद करने के लिए भी किया जाता है डीवीडी ROM ड्राइव में एक मैनुअल इजेक्ट बटन भी होता है | वॉल्यूम नियंत्रण भी DVD ड्राइव के सामने स्थित होता है | माइक्रोफ़ोन को कनेक्ट करने के लिए एक पोर्ट भी उपलब्ध होता हैवहाँ ही पर एक LED indicator जो प्रकाश के द्वारा DVD ड्राइव की स्थिति को प्रदशि॔त करता है |

डीवीडी प्लेयर के पीछे के पैनल में कंप्यूटर पर डीवीडी ड्राइव को जोड़ने के लिए अलग-अलग पोर्ट्स होते हैं | DVD ड्राइव कंप्यूटर के साथ जुड़ने के लिए SATA या IDE इंटरफ़ेस का उपयोग करते है तदनुसार ड्राइव को IDE या SATA DVD ड्राइव कहा जाता है IDE डीवीडी ड्राइव के मामले में, एक डिजिटल ऑडियो कनेक्टर होता है, ऑडियो कनेक्टर एक पोर्ट होता है जो कंप्यूटर के साउंड कार्ड या मदरबोर्ड से जुड़ा हुआ होता है, ऑडियो केबल के द्वारा | जम्पर कनेक्शन डीवीडी ड्राइव को या तो मास्टर या स्लेवके रूप में कॉन्फ़िगर रहता है | SATA डीवीडी ड्राइव के मामले में, आप डिजिटल ऑडियो कनेक्टर और जम्पर सेटिंग नहीं खोज पाएंगे |

ऑप्टिकल डिस्क ड्राइव को कंप्यूटर से कनेक्ट करना (Connecting an Optical Disk Drive to Computer)
विभिन्न प्रकार की ऑप्टिकल डिस्क ड्राइवों के बारे में जाने के बाद अब हम जानेंगे कि एक कंप्यूटर से ऑप्टिकल डिस्क ड्राइव को कैसे जोड़ा जा सकता है | कंप्यूटर पर एक ऑप्टिकल डिस्क ड्राइव कनेक्ट करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें |
# यदि यह IDE ड्राइव है तो जम्पर सेटिंग कॉन्फ़िगर करे |
# इंटरफ़ेस केबल को ड्राइव के साथ ही मदरबोर्ड पर मोजूद कनेक्टर से कनेक्ट करें |
# BIOS से जांचें की ऑप्टिकल डिस्क ड्राइव डिटेक्ट हुआ की नही |

ऑप्टिकल डिस्क क्या होता है - Optical Disk in Hindi ऑप्टिकल डिस्क क्या होता है - Optical Disk in Hindi Reviewed by ADMIN on 23:58 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.