सबसे महंगे (कीमती) पदार्थ का क्या नाम है ये कहा पाया जाता है?


दुनिया का सबसे महँगा पदार्थ एंटीमैटर है, बशर्ते उसे हम हासिल कर सकें | एंटीमैटर पदार्थ के प्रतिकणों से बना होता है | मसलन पॉज़िट्रॉन, प्रति प्रोट्रॉन, प्रति न्यूट्रॉन वगैरह आपको हैरानी होगी कि एक ग्राम एंटी मैटर से 100 छोटे-छोटे देशों को खरीदा जा सकता है |

इसकी खोज बीसवीं सदी के पूर्वार्ध में हुई थी | एक अनुमान है कि एक ग्राम एंटीमैटर की कीमत 31 लाख 25 हजार करोड़ रुपये के आसपास होगी | एक मिलीग्राम एंटीमैटर बनाने में तकरीबन 160 करोड़ रुपये लगते हैं | जहाँ यह बनता है, वहाँ सुरक्षा का मजबूत घेरा होता है | नासा में जहाँ इसका निर्माण होता है, बहुत कम लोगों को जाने की इजाजत होती है |

एंटीमैटर का इस्तेमाल दूसरे ग्रहों में जाने वाले वाहनों के ईँधन के रूप में हो सकता है | हालांकि पृथ्वी पर एंटीमैटर की आवश्यकता नहीं होती, पर वैज्ञानिकों ने बहुत थोड़ी मात्रा में एंटीमैटर का निर्माण किया है | प्राकृतिक रूप से पृथ्वी पर यह अंतरिक्ष तरंगों के साथ वातावरण में आ जाने से या रेडियोधर्मी पदार्थ के ब्रेकडाउन से अस्तित्व में आता है |
सबसे महंगे (कीमती) पदार्थ का क्या नाम है ये कहा पाया जाता है? सबसे महंगे (कीमती) पदार्थ का क्या नाम है ये कहा पाया जाता है? Reviewed by ADMIN on 23:57 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.