अम्ल एवं क्षार और लवण क्या है? Acids Bases and Salts in Hindi

अम्ल एवं क्षार और लवण क्या है? Acids Bases and Salts in Hindi

पेड़ और जन्‍तुओं से प्राप्‍त होने वाले अम्‍ल कार्बनिक अम्‍ल कहलाते हैं उदाहरण लैक्टिक अम्‍ल, ऑक्‍जेलिक अम्‍ल, एसिटिक अम्‍ल आदि।

खनिजों से प्राप्‍त होने वाले अम्‍ल खनिज अम्‍ल कहलाते हैं उदाहरण सलफ्यूरिक अम्‍ल और फास्‍फोरिक अम्‍ल आदि।

अम्‍ल एवं क्षार की आरहीनियस सिद्धांत:
अम्‍ल वे पदार्थ हैं जो जलीय विलयन में हाइड्रोजन आयन H- देते हैं उदाहरण HCL, सलफ्यूरिक अम्‍ल आदि।
क्षार वे पदार्थ हैं जो जलीय विलयन में हाइड्रॉक्‍साइड आयन OH- देते हैं उदाहरण सोडियम हाइड्रॉक्‍साइड, अमोनियम हाइड्रॉक्‍साइड आदि।

अम्‍ल एवं क्षार की ब्रांस्‍टेड लॉरी सिद्धांत:
  • अम्‍ल वे अणु अथवा आयन है जो कि प्रोटॉन प्रदाता होते हैं।
  • क्षार वे अणु व आयन है जो प्रोटॉन ग्रहण करने में सक्षम होते हैं।

अम्‍ल एवं क्षार की लुईस सिद्धांत:
अम्‍ल वे पदार्थ हैं जो कि इलेक्‍ट्रॉन ग्रहण करते हैं। उदाहरण बोरान फ्लूराइड (BF3) कार्बन डाइऑक्‍साइड।
क्षार वे पदार्थ हैं जो कि इलेक्‍ट्रॉन त्‍याग सकते हैं उदाहरण: फ्लोराइड (F-) और क्‍लोराइड (Cl-).

कुछ महत्‍वपूर्ण अम्‍ल एवं उनकी उपस्थिति
अम्‍ल का नाम
उपस्थिति
एसिटिक अम्‍ल
सिरका
फॉर्मिक अम्‍ल
लाल चीटी के डंक में
साइट्रिक अम्‍ल
रसेदार फलों में
लैक्टिक अम्‍ल
दही में
एसॉर्बिक अम्‍ल
आंवला मे
टारर्टिक अम्‍ल
अंगूर, पके आम में
ऑक्‍जेलिक अम्‍ल
पालक में

pH पैमाना:
  • pH मान जलीय विलयन में अम्‍लीयता अथवा क्षारीयता की माप है।
  • 7 से कम pH मान वाले विलयन को अम्‍लीय माना जाता है।
  • 7 से अधिक pH मान वाले विलयन को क्षारीयमाना जाता है।

बफर विलयन:
  • वह विलयन जो अम्‍ल या क्षार की अतिरिक्‍त मात्रा मिलाये जाने पर अपने pH मान में परिवर्तन का विरोध करता है, बफर विलयन कहलाता है।
  • अम्‍लीय बफर विलयन का pH मान 7 से कम होता है।
  • क्षारीय बफर विलयन का pH मान 7 से अधिक होता है।
  • हमारे द्वारा कई अम्‍लीय भोजन के सेवन के बाद H2CO3/HCO3 बफर विलयन की मदद से रक्‍त का pH मान नियंत्रित होता है।
लवण:
  • जब अम्‍लीय और क्षारीय विलयन एक उचित अनुपात में आपस में मिलाये जाते हैं, तो उनका स्‍वयं का गुण समाप्‍त हो जाता है, और लवण बनता है।
  • अम्‍ल नीले लिटमस पेपर को लाल और क्षार लाल लिटमस पेपर को नीला कर देता है।
  • अम्‍ल एवं क्षार को मिलाकर लवण बनाने की क्रिया को लवणीकरण अभिक्रिया कहते हैं।
अम्ल एवं क्षार और लवण क्या है? Acids Bases and Salts in Hindi अम्ल एवं क्षार और लवण क्या है? Acids Bases and Salts in Hindi Reviewed by ADMIN on 05:47 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.