भारत की प्रथम महिला आई.ए.एस अधिकारी कौन थी? Bharat ki pratham mahila IAS kaun thi


Bharat ki pratham mahila IAS kaun thi क्या आप जानते है भारत की प्रथम महिला आई.ए.एस अधिकारी कौन थी यह सवाल आपने मन में भी अवश्य उठा होगा आज हम बात करने वाले है भारत की सबसे पहली महिला आईएएस ऑफिसर अन्ना राजम मल्होत्रा के बारें में जिन्होंने वर्ष 1950 में सिविल सर्विसेस की परीक्षा पास की थी 1950 के दशक में महिलाओं का प्रशासनिक सेवाओं में प्रतिशत लगभग ना के बराबर था इस बीच वर्ष 1951 में अन्ना राजन मल्होत्रा भारत की प्रथम महिला IAS नियुक्त हुई थी |


भारत की प्रथम महिला आई.ए.एस अधिकारी कौन थी? Bharat ki pratham mahila IAS kaun thi

अन्ना राजन का जन्म 17 जुलाई सन 1927 में केरल के एर्नाकुलम जिले में हुआ था तब उनका पूरा नाम अन्ना राजन जॉर्ज था इनका विवाह आर.एन. मल्होत्रा से हुआ था जो 1985 से 1990 तक आरबीआई के गवर्नर थे इन्होने अपनी स्कूली शिक्षा कोझीकोड में प्राप्त की और कालीकट के प्रोविडेंस महिला कॉलेज और मालाबार ईसाईं कॉलेज से पढ़ाई पूरी की इसके बाद मद्रास विश्वविद्यालय से अंग्रेजी साहित्य में मास्टर्स की डिग्री हासिल की |

अन्ना राजन की सिविल सर्विसेज में नियुक्त होने के पश्चात उनकी पहली पोस्टिंग मद्रास में हुई थी उस समय मद्रास के मुख्यमंत्री सी. राजगोपालाचारी ने उन्हें डिस्ट्रिक्ट सब कलेक्टर बनाने की बजाय सीधे सचिवालय में नियुक्त कर दिया था |


अन्ना के नेतृत्व में ही देश का पहला कंप्यूटरराइज्ड कंटेनर पोर्ट बना था जोकि मुंबई में स्थित है मुंबई में बने इस पोर्ट को जवाहरलाल नेहरु बंदरगाह का नाम दिया गया है वर्ष 1989 में अन्ना जॉर्ज को पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था भारत की पहली महिला अधकारी अन्ना राजन मल्होत्रा का मुंबई के अँधेरी में 17 सितम्बर 2018 को निधन हो गया |
भारत की प्रथम महिला आई.ए.एस अधिकारी कौन थी? Bharat ki pratham mahila IAS kaun thi भारत की प्रथम महिला आई.ए.एस अधिकारी कौन थी? Bharat ki pratham mahila IAS kaun thi Reviewed by ADMIN on May 29, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.